रेप के आरोपी आसाराम के बेटे को आया गुस्सा, पीड़िता को बताया पागल

Posted by:
 
बापू के बेटे को आया गुस्सा, लड़की को बताया पागल

नयी दिल्ली। खुद को भगवान मानने वाले, सफेद चोला ओढ़कर लोगों के पाप को पूण्य में बदलने वाले इस तथाकथित संत पर जब नाबालिग के साथ रेप जैसा घिनौना आरोप लगा तो आसाराम बापू के साथ-साथ उनका पूरा परिवार तिलमिला उठा है। आसाराम बापू जितने अपने सत्संग और प्रवचनों के लिए मशहूर है उनते ही अपने आपत्तिजनक विचारों के लिए जाने जाते है।

बाप के नक्शेकदम पर चलते हुए आसाराम बापू के बेटे नारायण साईं ने भी यौन शोषण का आरोप लगाने वाली नाबालिग लड़की पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है। राजकोट में एक सत्संग के दौरान नारायण ने कहा कि जिस लड़की ने आरोप लगाया है वह मानसिक रूप से अस्वस्थ है।

पिता के ऊपर लगे घिनौने आरोप पर उनका बचाव करते हुए नारायण साई ने कहा कि लड़की पागल है। उसका दिमागी संतुलन ठीक नहीं है तभी तो वो संत पर आरोप लगा रही है। नारायण ने प्रवचन के दौरान कहा कि लड़की मानसिक रूप से अस्वस्थ थी। जब नहाने जाती तो दो-ढाई घंटे तक नहाती ही रहती थी।

नारायण के मुताबिक लड़की की हरकतों की वजह से ही गुरुकुल के लोगों ने उसके मां-बाप को बुलाया और उनसे लड़की की दिमागी हालत के बारे में पूछा। इसके बाद खुद उसके माता-पिता इस समस्या का समाधान करने के लिए आसाराम बापू के जोधपुर आश्रम में जाने का फैसला किया। जहां बेटा आरोप लगाने वाली नाबालिग लड़की को पागल बता रहा है तो वहीं पिता संत आसाराम ने इंदौर में ये कहते नजर आ रहे है कि लोग उसे नाबालिग कर रहे हैं, लेकिन वह 12 वीं में पढ़ने वाली होशियार लड़की है।

English summary
Asaram Bapu's son has defended his father in the sexual assault case and has called the victim 'mentally unstable.
Write a Comment
More Headlines