English ગુજરાતી ಕನ್ನಡ മലയാളം தமிழ் తెలుగు
Filmibeat Hindi

खुंखार कुत्तों ने बच्ची को नोंच-नोंच कर मार डाला

Posted by:
 

खुंखार कुत्तों ने बच्ची को नोंच-नोंच कर मार डाला

सिरसा। गांव बाहिया में 10 साल की बच्ची को खुंखार कुत्तों के एक झुंड ने नोंच डाला। कुतों के नोंचने से बच्ची की मौके पर ही मौत हो गई। खुंखार कुतों के आंतक से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। गांव बाहियां में प्रात: खेतों में गेहूं की कटाई होने के बाद अवशेषों में बालियां की चुनाई कर रही एक 10 वर्षीय बच्ची को खुंखार आवारा कुत्तों के झुंड ने नोच डाला और बच्ची की मौके पर ही मौत हो गई। कुत्तों ने बच्ची को इतनी बुरी तरह से नोचा कि उसकी शरीर पर लगभग 50 जगहों पर चोटों के निशान पाए गए।

मूलरूप से गांव दमदमा के रहने वोले नानक सिंह अपनी पत्नी जगरूप कौर एवं अपने चार बच्चों के साथ गांव बाहियां के किसान कृष्ण सिंह में गेहूूं की कटाई कर रहे थे। उसकी 10 वर्षीय बेटी सीमा व बेटा लवप्रीत सिंह साथ लगते खेतों में चार एकड़ दूर खेतों में कंबाइन से गेहूं की कटाई होने के बाद बचे अवशेषों में से गेहूं की बालियां की चुनाई करने चले गए और कुछ देर बार वहां पर आवार कुत्तों का झुंड में जिसमें 15 कुत्तें शामिल थे वे पहुंच गए।

सीमा व उसका भाई लवप्रीत वहां से भागने लगे तो कुत्तों ने सीमा को तो पकड़ लिया और लवप्रीत वहां से भागने में सफल हो गया। कुत्तों ने सीमा को गेहूं के खेतों में सिर, कमर, टांगों, पेट पर बुरी तरह से नोच कर शरीर को बोटियां बोटियां कर दी।

घटना स्थल से उसकी माता-पिता जहां कार्य कर रहे थे उसकी दूरी अधिक थी इसलिए वे उसकी आवाज नहीं सुन सके और कुत्तें सीमा को नोचतें रहे। इतने में अन्य खेत का किसान दलीप सिंह बैलगाड़ी लेकर वहां से गुजरा तो उसने देखा कि कुत्तों ने एक बच्ची को नोच रखा है तो वह तुरंत उसकी मदद के दौड़ा लेकिन कुत्तें दलीप सिंह के पीछे भी पड़ गए।

दलीप के आसपास के किसानों को इकटठा कर लाठियों की सहायता से कुत्तों को भगाया और बच्ची को संभाला तो उसकी मौत हो चुकी थी। परिवारजनों व लोगों ने देखा कि बच्ची सीमा अचेत अवस्था में पड़ी थी। लोगों ने बच्ची को हिलाने जुलाने की कोशिश की तो वह कुत्तों के आंतक से हार कर मौत के मुंह में समा चुकी थी।कुत्तों ने उसकी आधी खोपड़ी नोच डाली थी। सीमा की आधी खोपडी ही नहीं थी और उसके सारे शरीर पर कुत्तो के नोचने के निशान थे।

घटना के बाद गांव में दहशत

घटना के बाद से गांव में दहशत का माहौल है। ग्रामीण पहले भी खुंखार कुतों से परेशान हैं। ग्रामीणों का कहना है कि खुंखार कुतों ने पहले भी अनेक बार ग्रामीणों की भेड़-बकरियां आदि को नोंच डालते हैं। अकेले व्यक्ति को कुते कहीं भी घेर हैं। ग्रामीणों के जान-माल को हानि पंहुचाते है। इस बारे मं गांव बाहिया के सरपंच हरि राम का कहना है कि खुंखार कुतों के आंतक से ग्रामीणों को भारी परेशानी का सामना करना पडता है।

वह इस समस्या को लेकर उपायुक्त व अन्य उच्चाधिकारियों को अवगत करवा चुके हैं लेकिन अभी तक कोई हल नहीं हुआ है। अगर अब जल्दी ही समस्या का समाधान नहीं किया गया तो ग्रामीण आगामी रूपरेखा तैयार करेंगे। इस बारे में पुलिस चौंकी करीवाला के एएसआई छज्जु राम ने बताया कि ग्रामीणों की शिकायत के बाद धारा 174 के तहत कार्यवाही करते हुए शव को कब्जे में ले लिया है और पोस्टमार्टम के लिए सिरसा के सामान्य अस्पताल भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम के बाद आगामी कार्यवाही की जाएगी।

English summary
Street dogs killed 10 years old girl in Sirsa district of Haryana. People have complained the DM over this matter.
Subscribe Newsletter
Videos You May Like