चक्रव्यूह का ख्याल 2003 में ही आ गया था: झा

Posted by:

दशहरे के मौके पर प्रदर्शित हुई फिल्म चक्रव्यूह के बारे में निर्माता-निर्देशक प्रकाश झा ने कहा कि उन्हें नक्सली समस्या पर बनी फिल्म चक्रव्यूह का ख्याल साल 2003 में ही आ गया था जिसे उन्होंने अब जाकर अंजाम दिया है। प्रकाश झा ने कहा कि वो चाहते थे कि उनकी फिल्म के जरिये लोग देश की जटिल और गंभीर समस्या को समझे। नक्सली समस्या ने आज देश में विकट रूप इख्तियार कर लिया है।

प्रकाश झा ने कहा कि लेकिन उनकी इच्छा है कि  वो भी दूसरे निर्माता-निर्देशकों की तरह 100 करोड़ कमाये। झा ने हंसते हुए बीबीसी से कहा कि हर किसी की इच्छा नहीं होती कि वो पैसे कमाये तो अगर ऐसे में मैने करोड़ो की बात कही तो लोगों को हैरान नहीं होना चाहिए।

आपको बता दें प्रकाश झा निर्देशित फिल्म चक्रव्यूह दशहरे के मौके पर सिनेमाघरों में पहंची है। फिल्म में नक्सलियों की समस्या को दिखाया गया है, देश के ज्वलंत मु्द्दे पर बनी यह फिल्म में अभय देओल, अर्जुन रामपाल, ईशा गुप्ता, ओम पुरी, मनोज बाजपेयी, अंजलि पाटिल, चेतन पंडित, समीरा रेड्डी की मुख्य भूमिका है। समीक्षकों ने भी चक्रव्यूह को गंभीर मु्द्दे पर बनी अच्छी फिल्म बतायी है और कहा है कि यह फिल्म उन लोगों को अच्छी लगेगी जो दिमाग से सोचते हैं।

English summary
Chakravyuh was on my mind since 2003 said Director Prakash Jha.
Write a Comment
More Headlines